खोंग्रेस नहेर नीति.

खोंग्रेस  नहेर नीति
==========
देश लुटनेका और देश को मुस्लिम राष्ट्र या ईसाई राष्ट्र बनानेका एक तरिका
तरिका , देश के कई जटिल प्रश्न चालु रखनेका , और वो प्रश्नोंका निकाल  नहीं
करना , बल्कि वो सभी   बर्निग सवालोको ज्यादा  जटिल बनाना  और खोंग्रे
यानी नहर नीति से देश को लूटते ही रहना , ऐसी  नीतिया बनाते जानेका  , किसी भी
जटिल  ,या  सुलभ  सवालोकोा निका ल नही करना , उसको निग्लेक्ट  करनेका
और उनकी नीतियोसे देश में तुस्टीकरण ,विख्वाद , , कोमवाद देश की ,जातिवाद
लुटवाद , सभी देश की सीमाए जलती रखना और सैन्य को बाढ़ के रखना ,ये
सभी में देश को कमजोर  होने देनेका ,और देश की संपत्ति लुटाते ही  रहनेका
,राम सेतु जैसे अनमोल पत्थर को तोड़के विदेश को बेच देनेकी कोशिश देश की कई
खनिज संप्पत्तिय को  मुफ्तमे लुटाना , काश्मीर के मुडेको आज दिन तक सुलगता
रखनेका  और उसमे और कई जाती सवाल जोड़ते जानेका , देश को धीरे धीरे टुकड़ामे
बाटनेकी नीति रही है , जो आज उनका पोल खुल गया है ,कई सवाल  है  और उठे है
१ ====उन्होंने ललित मोदी को क्यों नही पकड़ा ,?
२====  दाऊद इब्राहिम को क्यों नहीं पकड़ा ?
३ ===  क्वत्रीची को  जो बोफोर्स का मुजरिम को क्यों छोड़ दिया
४==== भोपाल गैस के मुजरिम एंडरसन  को देश में से भगाया
५ ====इटलीके  मुजरिमो को क्यों भगाया
६ === काश्मीर क्यों सुलगता रखा ?
७ ===  देश में  सेनाओको क्यों  दबाके राखी ?
८ ===  चीनको क्यों यूएन की सदस्य्टोमें मदद की , जो की हिदुस्तानको मिलने वालीथी
९ === चीन की  लडाइमे  जब सैन्य आगे बढ़ रहा था तो क्यों रोक दिया , और युद्ध विराम घोसित किया?
१० ==  छ्पाकिस्तानके ९०,०००  सैनिको को [पीओके ] लिए बिना क्यों  छोड़ दिया ? ऐसी खेराते क्यों की ?
११, === जब सैन्य १९६२  चीन की लड़ाई में  आगे बढ़ता था तो उसे रोक क्यों ?  और छीना को ७२  हजार वर्ग
किलोमीटर जमी न  दे के  समाधान क्यों किया  ? पुरे देश की जनता  आपके पीछे  कड़ी थी  फिर भी ?
ऐसे बूत सारे सवाल है  जो देश को कमजोर करने को ही की गई है और हिन्दुओको  कमजोर  बनानेको ही
की गई है , देश में मिशिनीरियोको  कियो खुली छूट दी गई ? हिन्दू धर्म को दबाना  या जुल्म करना
ईसाई या मुस्लिम धर्मो  बढ़ावा देनेका , आर्थिक , और सामाजिक सुरक्षा दे करके , कानून को  क्यों
ओवर लुक  किया , ये सब  देह के सामान्य  नागरिक नहीं समज पा रहे है , इसीलिए ये खोंग्रेस  और
स्वक्यू लरोने  देश को और देश की अर्थ व्यवस्था को तितर बितर करनेमे  कोई कचास नहीं राखी है
बस एक ही परिवारको  भढावा दिया है , और देश में कई ,रोड, संषताए ,देश की कई सामाजिक सेवाए
और राष्ट्र के कई  एयर पोर्ट , उनके नामाभिधान क्यों कोया है ? क्या एक  ही परिवारने  देश को  आज़ाद
किया था ?  और कोई सहिद नहीं हुए क्या ? इन लोगोने देश को लूट के विदेशोमे  संपत्ति जमा की है
उसका ब्योरा लेंने का वक्त आज्ञा है ,और वापस भी मागनेका वक्त  आज्ञा है   इन लोगोने  भाई भाई में
ज़हर फैला है , और  एक भाई से दूसरे भाई को  साथ में  बैठ नो  नहीं दिया है , सभी हिन्दुस्तानी  भाई  भाई  है
=== प्रहलादभाई प्रजापति

Advertisements