ललित मोदी पर कॉंग्रेस इन प्रश्नो का जवाब क्यों नहीं देती ??
सारा ललित मोदी कांड अगर हुआ है तो कॉंग्रेस के राज मैं ही हुआ है तब कॉंग्रेस क्या सो रही थी ?
1)ललित मोदी को एक सामान्य बिजनेस मेन से किस नियम के तहत IPL का चीफ बनाय कॉंग्रेस ने ?
2) अगर कॉंग्रेस ललित मोदी को इतना बड़ा आरोपी मानती थी तो कॉंग्रेस नेता कपिल सिब्बल ,प्रियंका वाढरा और रोबर्ट वाढरा ललित मोदी को क्यों मिलते रहे थे ?
3) ललित मोदी का पास पोर्ट जब कॉंग्रेस सत्ता मैं थी तब क्यों हाई कोर्ट द्वारा रिन्यू किया गया, अगर कॉंग्रेस ललित मोदी को इनता बड़ा आरोपी मानती थी तो फिर हाई कोर्ट के इस निर्णय के खिलाफ कॉंग्रेस सरकार सुप्रीम कोर्ट क्यों नहीं गई ?
4) 2010 से 2014 या आज तक किसी भी कोर्ट ने ललित मोदी को किसी भी केस मैं छोटा आरोपी भी नहीं माना और अगर कॉंग्रेस ललित मोदी को इतना बड़ा आरोपी मानती थी तो किसी भी कोर्ट मैं ललित मोदी को आरोपी क्यों नहीं बनाया ??
5) जब ललित मोदी देश छोड़ने के लिए मजबूर हुआ तब को IPL चीफ था , और उसके देश छोड़ने के बाद राजीव शुक्ला जो प्रियंका के बच्चों की फतुड़ी धोता था उसको IPL का चीफ बनाया गया तो क्या कॉंग्रेस ने इरादतन ललित मोदी को देश छोड़ कर जाने दिया ताकि प्रियंका के नॉकर राजीव शुकला को आसनी से IPL चीफ बनाया जा सके ?
6) जब हाई कोर्ट ने ललित मोदी का पासपोर्ट रीन्यू किया तब तीन हाई कोंर्ट जजों ने ये ओब्जेर्वेशन किया था की ललित मोदी का पासपोर्ट गलत तरीके से कॉंग्रेस सरकार ने रीन्यू किया है तो हाई कोर्ट के तीन जजो का ये मन्तव्य क्या कॉंग्रेस का असली चहरा उजागर नहीं करता ?
7) कॉंग्रेस ने अपनी सरकार रहते हुए ललित मोदी पर सिर्फ “ब्लू कॉर्नर नोटिस” ही जारी की थी वैश्विक द्रष्टि से इसका कोई मतलब नहीं होता अगर ललित मोदी को कॉंग्रेस इतना बड़ा गुनाहगार मानती थी तो उसके खिलाफ “रेड कोंर्नर नोटिस” क्यों नहीं ईस्यु की गई ?
8) कॉंग्रेस वशुंधरा राजे के खिलाफ जो जूठे आरोप लगा रही है वे सभी काम जब केंद्र और राज्य दोनों जगह कॉंग्रेस की सरकार थी तब क्या कॉंग्रेस सो रही थी ?
कॉंग्रेस ने ये सारे आरोप पिछले राजस्थान के चुनाव मैं भी लगाए थे तो फिर प्रजा ने उनकी बात क्यों नहीं चुनी और कॉंग्रेस को राजस्थान के चुनाव मैं एतीहासिक हार का मजा क्यों चखाया ?

Advertisements