The pseudo sensitive persons became absolutely insensitive when 3000+ Kashmiri Hindus were mercilessly murdered and 500000+ were driven out from their home in 1990.

Mohan Pawar's photo.
Mohan Pawar

कश्मीरी हिन्दुओ को लिए मानवाधिकार आगे नहीं आएगा क्यू ?
कश्मीरी हिन्दुओ का दुख सिर्फ ज़ी न्यूज़ दिखा रहा है, बाकी मिडिया क्यू नहीं ?
कश्मीर क्या हिन्दुश्तान का हिस्शा नहीं है ?
कश्मीर के हिन्दुओ के लिए अब कोई , UNO में पात्र नहीं लिखेगा ?
कश्मीर में मरे गए हिन्दुओ के लिए कोई मोमबत्ती नहीं जलेगा क्यू ?
कश्मीर में हिन्दू मरे तो , घटना है और दादरी में कोई मरे तो सम्प्रदिक है आखिर क्यू?
कश्मीरी हिन्दुओ के लिए कोई अपना पुरस्कार क्यू नहीं लौटा रहा है ?

क्यू की हिंदुस्तान के हिन्दु सोए हुए है ,, जो जागना ही नहीं चाहते ..
क्या कोई बुद्धिजीवी है हिन्दुश्तान में ?

Advertisements