“आप देश के पक्ष में बात करो तो भाजपाई घोषित हो जाओगे, भाजपा देशभक्ति का दूसरा नाम बन गयी है”
=========================
देश के दोगले लोगों से मशहूर पत्रकार अर्नब गोस्वामी भी आक्रोशित हो चुके है
ये वही अर्नब गोस्वामी है जो पहले ठीक थे,
पर जबसे ये देश के पक्ष में पत्रकारिता करने लगे
तब से ही देश के सेक्युलर लोगों ने इन्हें भाजपाई बताना, संघी बताना शुरू कर दिया
यानि जो भी शख्स भारत के हित की बात करे, देश के पक्ष में बात करे, सेक्युलर तत्व उसे फ़ौरन भाजपाई और संघी घोषित कर देते है
आप पत्थरबाजों का विरोध करो सेक्युलर तत्व आपको भाजपाई बता देंगे
आप देश की बड़ी समस्या, जनसँख्या वृद्धि को नियंत्रित करने की बात करो सेक्युलर तत्व आपको भाजपाई बता देंगे
आप सेना के समर्थन में बात करो भाजपाई घोषित हो जाओगे
आप वंदे मातरम, भारत माता की जय, जैसे नारे लगाओ भाजपाई घोषित हो जाओगे
आप पाकिस्तान के खिलाफ बोलो, पाकिस्तानी कलाकारों के खिलाफ बोलो, भाजपाई घोषित हो जाओगे
आप बांग्लादेशियों के खिलाफ बात करो भाजपाई घोषित हो जाओगे
साफ़ है की, आप देश के पक्ष में बात करो, देशहित में बात करो, तो तुरंत भाजपाई घोषित हो जाओगे
भाजपा देशभक्ति का प्रयाय बन चुकी है
अर्नब गोस्वामी ने ये कहा की, मैं देश के, सेना के पक्ष में बात करता हूँ तो क्या मैं भाजपाई हो गया
और अगर ऐसा है तो फिर भाजपाई होने में बुराई नहीं है, क्योंकि देशहित से बड़ा कुछ नहीं हो सकता
Advertisements