केजरी देशका  दुसरा नहेरु होनेका ख़्वाब देख रहाथा
=========================
केजरीकी पोल  खुल गई है ,वो ऐंटी सोशल लोगोका सहारा लेके और लोगोके सामने इमान्दारिका ढ़ोग रचाके देश को लूटना छठा था ,और देशके दुश्मनो के साथ मिलके दुसरा नेहरू बनानेका खाव्ब देख रहा था  लेकिन उसका पोल खुल गया , और लोगोने उसको जल्दी पहचान लिया ,ये देश के लिए खातर नाक कैंसर होने जा रहा था लेकिन पकड़ा गया  उसीके पार्टी के कई ईमानदार लोगोने उसकी पोल खोल दी ये दुसरा एक बड़ा लुटेरा होने जा रहाथा
===प्रहलादभाई प्रजापति

Advertisements