पथरो को आपसमे लडवानेकी सेक्युलरी खोंग्रेसी तुस्टीकरणकी निति
============================
खोंग्रेसियोने पथरोंको भी आपसमे लाडवा दिया एक सेनावाले पत्थर जिसको पूरी खुली छूट और दुसरा नेता वाला पत्थर जिसको तुस्टीकरण का फायदा और लोकतंत्र पर हमला वह खोंग्रेसी सेक्यूलरो आपने
पथरो को भी न बक्शा उनको भी तुस्टीकरण की नीतिके साथ जोड़ दिया और पार्लामेंट तक उसकी
गूंज आवाज पंहुचा दी और पथरोंसे बचनेकी नेता लोगोका सौरक्षण की मांग की नहीतो लोक तंत्र खतरेमें आ जाएगा इन लोगोके हाथमे लोक तंत्र की जीवन डोर है जो खतरें से गुजर रही है
===प्रहलादभाई प्रजापति

Advertisements